शिक्षा से ही देश का विकास संभव- ईरानी
 
 
अजमेर । केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने बच्चों के सर्वागीण विकास में शिक्षा को जरूरी बताते हुये कहा कि इसके बिना देश का विकास संभव नही है। 
      श्रीमती ईरानी ने आज यहां राजकीय मोईनिया इस्लामिया उच्च माध्यमिक विधालय में मेघावी विधार्थी सम्मान समारोह में कहा कि देश का भविष्य छाों के हाथ में है इसलिए देश के प्रति उनकी जिम्मेवारी ज्यादा बढ़ जाती है। 
       उन्होंने वह यहां एक जनप्रतिनिधि  मंत्री के रूप में नहीं बल्कि मां के रूप में आई हूँ और मां को एक शिक्षक के रूप में अपने बच्चे को शिक्षा व प्रेरणा देनी होती है।  उन्होंने कहा कि शिक्षा से ही संस्कार आते है। उन्होंने राजस्थान में शिक्षा के क्षेत्र में हुये नवाचारों की चर्चा करते हुये कहा कि इन नवाचारों के कारण देश में राजस्थान 26वें पायदान से दूसरे पायदान पर पहुंचकर अपनी प्रतिभा स्थापित कर रहा है।
         कार्यक्रम में निम्बार्काचार्य  श्यामशरण देवाचार्य ने कहा कि देश की शिक्षा और संस्कृति को बचाने की लिए सभी को सामूहिक प्रयास करने होंगे। उन्होंने जन प्रतिनिधियों का आवान किया कि वे राष्ट्र की रक्षा के लिए काम करते रहे। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि यदि भारत में रहना होगा तो वंदे मातरम कहना होगा जो नहीं कहेगा उसे भारत से बाहर कर दिया जाएगा। समारोह में शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने राजस्थान में शिक्षा के लिए किए गए प्रयासों पर रोशनी डालते हुए कहा कि सरकारी स्कूलों में नामांकन की वृद्धि अप्रत्याशित है और आज सरकारी स्कूल के छा निजी स्कूलों के छाों को प्रतिस्पर्धा में बराबर की टक्कर दे रहे है। समारोह में उत्तर विधानसभा क्षेत्र के करीब 3700 छात्र छात्राओं को मेडल व प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया गया।