सभी स्कूलों में कराये जायेंगे सुरक्षा उपाय : एचआरडी

नयी दिल्ली। मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मांलय ने आज उच्चतम न्यायालय को भरोसा दिलाया कि देश के स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा के लिए जो भी उपाय किये जायेंगे, उस पर वह अमल करेगा। 
      मांलय ने गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल की दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्युम्न की हत्या के मामले में शीर्ष अदालत के समक्ष हलफनामा पेश किया। मांलय ने मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली खंडपीठ के समक्ष पेश शपथ-पत्र में यह भरोसा दिलाया है कि स्कूलों में सुरक्षा को लेकर न्यायालय जो भी उपाय या दिशानिर्देश जारी करेगा, उस पर मंत्रालय अमल करेगा। 
      एचआरडी के हलफनामे में मौजूदा कानूनों का जिक्र करते हुए कहा गया है कि यह राज्य सरकारों की जिम्मेदारी है कि वे मानव संसाधन विकास मांलय के दिशानिर्देशों को अनिवार्य रूप से लागू करे। मंत्रालय ने गत 11 सितंबर को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को एक आदेश जारी किया था जिसमें सभी शिक्षकों और गैर-शिक्षक कर्मचारियों की आपराधिक पृष्टभूमि की पहचान करने का निर्देश दिया था। इतना ही नहीं स्कूलों में स्कूल प्रबंधन समिति बनाने के भी आदेश दिये जा चुके हैं, जिसमें अभिभावकों को भी शामिल किया जायेगा। शपथ-पत्र में यह भी कहा गया है कि संयुक्त राष्ट्र घोषणा पा के तहत अंतरराष्ट्रीय कानून को लागू करने के लिए भी सभी राज्य सरकारों से कहा गया है।