छात्र-छात्राएं असफलता से नही घबरायें-अनुपम खेर


धमतरी।  देश के सुप्रसिद्ध सिने अभिनेता अनुपम खेर ने छा-छाओं और युवाओं से कहा कि असफलता से किसी भी सूरत में घबरायें नहीं। 
   श्री खेर आज यहां कुरुद नगर में हजारों छात्र-छात्राओं और युवाओं को सफलता के मूलमां और अनुशासन पर अपने एक घंटे के व्याख्यान में यह बात कही। उन्होंने छात्र-छात्राओं को सीख दी कि हम सदैव आशावादी बनें। हालात से निराश कोई भी ताकत तुम्हे फेल नहीं कर सकती। बस तुममे दृढ़ इच्छाशक्ति हो। यह तभी संभव है जब अपने अंदर की घबराहट और डर को दूर करेंगे।  
   उन्होंने कहा कि जो होगा अच्छा होगा, यह सोचकर अपना प्रयास जारी रखें। उन्होंने मंच पर एक छा को बुलाकर उसके भीतर के डर और घबराहट के भाव को दूर करने के टिप्स दिये। उन्होंने कहा कि परिस्थिति के अनुसार झूठ बोलने में कोई हर्ज नहीं है। बशत्रे ऐसा करने से किसी का अहित न होता हो। वैसे भी झूठ बोलने वाला अच्छी ए¨क्टग कर सकता है। 
   अनुपम खेर ने नारी शक्ति का जिक्र करते हुये कहा कि आज मैं जो हूं, वह अपनी मां, दादी, नानी के प्रोत्साहन और प्रेरणा से हूं। उन्होंने युवाओं से कहा कि आज देश में युवाओं की संख्या अधिक है। पूरी तरह से आजाद भारत में हैं। इसलिये अपनी सही उर्जा और युवा शक्ति का सदुपयोग करें। इस दौरान प्रदेश के पंचायत एवं स्वास्थ्य मंत्री अजय चन्द्राकर तथा  छत्तीसगढ़ के जाने माने साहित्यकार पद्मश्री डा. सुरेन्द्र दुबे भी मौजूद थे।