गोपेन्द्र भट्ट को मिला वागड़ विभूति अवॉर्ड
 
 
नई दिल्ली। राजस्थान सूचना केंद्र नई दिल्ली के अतिरिक्त निदेशक गोपेन्द्र नाथ भट्ट को मीडिया के क्षेत्र में अपूर्व योगदान,राज्य,राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय मीडिया के साथ समन्वय, विकास योजनाओं के कवरेज हेतु पत्रकार यात्राएँ आयोजित करवाने आदि उत्कृष्ट सेवाओं एवं योगदान के लिए वागड़ विभूति पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।
 
डूंगरपुर नगर परिषद अध्यक्ष के. के .गुप्ता व बोर्ड के कार्यकाल के तीन वर्ष पूरे होने पर वहाँ विजया राजे सभागार में आयोजित भव्य समारोह में मुख्य अतिथि व विशिष्ट अतिथि राज्यसभा सांसद हर्षवर्धन सिंह, राजस्थान उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश विजय व्यास व न्यायधीश झाला ने भट्ट को शाल ओढ़ा प्रमाण पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया।
 
उल्लेखनीय है कि डूंगरपुर मूल के भट्ट देश की राजधानी नई दिल्ली में पिछले 24 वर्षों तक प्रदेश के सूचना अधिकारी रहते हुए राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, कई केंद्रीय मंत्रियों, राज्य के राज्यपालो,मुख्यमंत्रियों,मन्त्रीगण,अन्य विशिष्ट जनों के साथ ही भारत सरकार एवं राज्य सरकार के कई स्वायत्त शासी व प्रवासी राजस्थानियो की विभिन्न संस्थाओं को भी  अपनी सेवाएं प्रदान कर चुके है। मुख्यमंत्री के हाथों राज्यस्तरीय योग्यता पुरस्कार एवं अंतरराष्ट्रीय फ़िल्म फेस्टीवल पुरस्कार  सहित अनेक सम्मानो से सम्मानित हो चुके भट्ट दिल्ली में राज्यों के सूचना अधिकारियों के संगठन 'सिप्रा' के दो बार अध्यक्ष भी रह चुके है। उन्होंने दिल्ली व बाहर अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेलों,भारत पर्व, स्वाधीनता एवं गणतंत्र दिवस समारोह,रक भारत श्रेष्ठ भारत आदि  विभिन्न आयोजनों के व्यापक प्रचार प्रसार करवाने में अहंम भूमिका निभाई है।
 
समारोह में वागड़ क्षेत्र की 64 विभूतियों को सम्मानित किया गया। जिनमे सांसद हर्षवर्धन सिंह,प्रवासी  भारतीय अशोक भट्ट,आईएएस डॉ.विश्वास मेहता, कृषि वैज्ञानिक डॉ.अनंत जोशी, फिल्मकार शिवेंद्र सिंह के साथ ही इतिहास,साहित्य,खेलकूद,शिक्षा,चिकित्सा, कला,संस्कृति व अन्य विविध क्षेत्रों की विभूतियां शामिल थी।