बांग्ला को इस साल का हर्विल सेकर अनुवाद पुरस्कार 
 
      नयी दिल्ली । वर्ष 2018 के हर्विल सेकर पुरस्कार के लिए बांग्ला भाषा का चयन किया गया है। यह पुरस्कार युवा अनुवादकों की उपलब्धियों को पहचान दिलाने के उद्देश्य से दिया जाता है। 
     हर्विल सेकर युवा अनुवादक पुरस्कार 2018 उन अनुवादकों में से सर्वश्रेष्ठ को प्रदान किया जायेगा जो लेखक शामिक घोष के संग्रह ‘ एल्विस ओ अमोलसुंदरी ’  संग्रह में संग्रहित लघुकथा ‘ हॉफ टाइमर पावरे ’  का अनुवाद करेंगे। विजेता अनुवादक को पुरस्कारस्वरूप एक हजार पाउंड और हर्विल सेकर की किताबों का सेट प्रदान किया जायेगा।   यह हर्विल सेकर पुरस्कार का नौवां साल है। हर साल विभिन्न भाषाओं पर केंद्रित रहा है और इसमें किसी भी देश का रहने वाला 18 से 34 साल उम्र का अनुवादक हिस्सा ले सकता है।