जामिया : सीआईई में एक साल का ग्रेजुएशन डिप्लोमा कोर्स शुरू

इस स्नातकोत्तर डिप्लोमा के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई

नई दिल्ली । जामिया मिलिया इस्लामिया के सेंटर फॉर इनोवेशन एंड आन्ट्रप्रनर्शिप सेंटर (सीआईई) ने आन्ट्रप्रनर्शिप, इनोवेशन एंड डिजाइन थिंकिंग में 2018-19 के अकादमिक सत्र से एक साल का ग्रेजुएशन डिप्लोमा शुरू किया है। रोजगार सृजन के लिए सरकार की ओर से चलाए जा रहे अभियान के अनुरूप इस कोर्स की शुरूआत की गई है।इस स्नातकोत्तर डिप्लोमा के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई है। इसके लिए कुल 20 सीटें उपलब्ध हैं। इच्छुक उम्मीदवार जामिया के कंट्रोलर ऑफ एक्जामिनेशन वेबसाइट के जरिए आनलाइन फार्म भर सकते हैं। जामिया के कुलपति प्रो. तलत अहमद ने सीआईई को इसके लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि समय की पुकार है कि छात्रों में उद्यमशीलता के सपने को जगाया जाए जिससे कि देश के विकास को रफ्तार मिल सके। उन्होंने कहा कि आन्ट्रप्रनर्शिप, इनोवेशन एंड डिजाइन थिंकिंग में ग्रेजुएशन डिप्लोमा इस दिशा में उठाया गया अहम कदम है। सीआईई के डायरेक्टर प्रो. जिशान हुसैन खान ने कहा कि इस कोर्स का मकसद छात्रों में उद्यमशीलता और नई खोज करने की सोच को बढ़ावा देना है। उन्होंने बताया कि इस महत्वपूर्ण कोर्स के लिए जामिया के शिक्षा एवं अनुसंधान में विशेषज्ञता रखने वाले अध्यापकों सहित आईआईएम, आईआईटी और अन्य केन्द्रीय विविद्यालयों से भी आन्ट्रप्रनर्शिप, इनोवेशन एंड डिजाइन थिंकिंग के क्षेत्र में विशेषज्ञ अध्यापकों को विजिटिंग प्रोफेसर के तौर पर आमंत्रित किया जाएगा। सीआईई 2016 से ही स्कूल की शिक्षा पूरी नहीं कर सकने और गरीब परिवारों के बच्चों को उद्यमशीलता का प्रशिक्षण देकर उन्हें अपना खुद का काम शुरू करने को प्रेरित करता आ रहा है।