एएमयू छात्रसंघ ने की राष्ट्रपति से हस्तक्षेप की मांग 

     अलीगढ (उत्तर प्रदेश)। एएमयू छात्र संघ के नेताओं ने विविद्यालय परिसर में चल रहे गतिरोध को दूर करने के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द से हस्तक्षेप की मांग की है। 
    राष्ट्रपति को भेजे पत्र में छात्रसंघ नेताओं ने दावा किया है कि परिसर में दो मई को घुस आये असामाजिक तत्वों के खिलाफ जिला प्रशासन और राज्य सरकार ने कोई संतोषजनक कार्रवाई नहीं की है।     छात्रसंघ अध्यक्ष मशकूर अहमद उस्मानी और सचिव मोहम्मद फहद सहित कई नेताओं ने राष्ट्रपति से मुलाकात का समय मांगा है। उन्होंने आग्रह किया कि राष्ट्रपति एक प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात का समय दें। प्रतिनिधिमंडल में छात्रसंघ के वरिष्ठ नेता, विविद्यालय के पूर्व छात्र और एएमयू शिक्षण स्टाफ होगा।     उस्मानी ने संवाददाताओं से कहा कि हम राष्ट्रपति का बहुत सम्मान करते हैं और उम्मीद है कि उनके हस्तक्षेप से इस पेचीदा मुद्दे में न्याय एवं निष्पक्षता सुनिश्चित होगी।    उन्होंने कहा कि विविद्यालय का ‘विजिटर‘ होने के नाते राष्ट्रपति के हस्तक्षेप से गतिरोध जल्द समाप्त होगा।    उस्मानी ने कहा कि ऐसा ही पत्र केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावडेकर को भी भेजा गया है। अब हमें अपने पत्रों के जवाब का इंतजार है।