छोटे स्कूल वाहन और वैन के लिए तय नियमों का पालन हो : योगी

        लखनऊ । उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में मानवरहित क्रांसिंग पर वैन हादसे में 13 बच्चों की मौत के मामले को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज निर्देश दिये कि छोटे स्कूल वाहन और वैन के लिए तय नियमों का पालन हो और सड़क सुरक्षा अभियान चलाकर स्कूली बच्चों एवं उनके माता पिता को जागरुक किया जाए । 
   योगी ने एक उच्चस्तरीय बैठक में सड़क सुरक्षा के संबंध में पुलिस एवं परिवहन विभाग को संयुक्त अभियान चलाने के निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि सड़क सुरक्षा के नियमों का सख्ती से पालन सुनिश्चित कराया जाए। हेलमेट और सीट बेल्ट के इस्तेमाल का कड़ाई से अनुपालन कराया जाए। ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन पर ई-चालान की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।       उन्होंने कहा, ‘‘छोटे स्कूल वाहन और वैन के लिए तय नियमों का पालन किया जाए। जनसामान्य और खासतौर से स्कूली बच्चों तथा उनके अभिभावकों को सड़क सुरक्षा के सम्बन्ध में अभियान चलाकर जागरुक किया जाए।‘‘
    मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़क सुरक्षा के सम्बन्ध में पुलिस, परिवहन, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य तथा शिक्षा विभाग संयुक्त रूप से कार्य योजना बनाकर उसका क्रियान्वयन सुनिश्चित करें। बेसिक एवं माध्यमिक शिक्षा विभाग से जनपदवार स्कूलों की सूची प्राप्त करके अभियान चलाकर सम्बन्धित वाहनों का शत-प्रतिशत निरीक्षण किया जाए। स्कूलों का दायित्व निर्धारित किया जाए कि मानक के अनुसार ही वाहन चलें।     योगी ने सभी मार्गो पर यातायात नियंतण् संबधी साइन बोर्ड को प्राथमिकता पर लगाए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि दुर्घटनाओं में होने वाली मौतों को लेकर सरकार अत्यन्त चिन्तित और गम्भीर है। इन्हें रोकने के लिए गम्भीर प्रयास करने होंगे। मार्ग दुर्घटनाओं का सबसे बड़ा कारण ड्राइवरों की लापरवाही, ओवर स्पींिडग और शराब पीकर वाहन चलाना है। इन पर हर हाल में लगाम लगानी होगी।    उन्होंने चालकों के स्वास्थ्य परीक्षण करवाने के भी निर्देश दिए। साथ ही, कहा कि यात्री व स्कूली वाहनों की भी फिटनेस सुनिश्चित हो। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए। उन्होंने कहा कि वाहन चालकों को ट्रैफिक नियमों की जानकारी देते हुए नियमों का पालन सुनिश्चित कराया जाए।