दिल्ली : छात्रों की पुरानी किताबें वंचित वर्ग के बच्चों को दी जाएगी 
 
  नयी दिल्ली । दिल्ली सरकार ने अपने स्कूलों से कहा है कि वह सभी कक्षाओं के छात्रों से पुरानी इस्तेमाल की जा चुकी पाठ्यपुस्तकें जमा करें और किताबों का एक बैंक बनाए।  राष्ट्रीय हरित अधिकरण ने पुरानी किताबों के बेहतर इस्तेमाल की सिफारिश की थी जिसके बाद यह कदम उठाया गया है। बैंक इन किताबों को वंचित वर्ग के बच्चों को मुहैया कराएगा।  शिक्षा निदेशालय द्वारा सरकारी स्कूलों को भेजी गई सूचना में कहा गया है , ‘‘ हर साल छात्रों के लिए किताबें छापने में लाखों टन कागज लगता है। जब छात्र पास हो जाते हैं तो उन्हें अगली कक्षा की किताबें दी जाती हैं और पिछली कक्षा की पुस्तकों का काम नहीं होता। ’’ इसमें कहा गया है , ‘‘ अत : स्कूलों को निर्देश दिया जाता है कि पिछले अकादमिक सत्र की पुरानी किताबें छात्रों से स्वैच्छिक आधार पर पुस्तक बैंक के लिए एकत्रित की जानी चाहिए। ’’ स्कूल प्रबंधन समितियों के जरिए किताबें वंचित वर्ग के छात्रों को मुहैया करायी जाएगी।