छात्रावासों और छात्रवृत्ति को लेकर विद्यार्थी परिषद ने किया प्रदर्शन


लखनऊ। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने आज अनुसूचित जाति/जनजाति (एससीएसटी) छावासों और छावृत्ति में व्याप्त भ्रष्टाचार को लेकर यहां जिलाधिकारी कार्यालय के सामने प्रदर्शन किया। 
         परिवर्तन चौक से सैकड़ों की संख्या में छात्र एकाित होकर जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे। इस दौरान छात्रों ने जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। छात्र जिलाधिकारी से मिलने की मांग रहे थे लेकिन जिलाधिकारी बैठक में व्यस्त होने के कारण नहीं मिल सके। मौके पर पहुंचे एडीएम सिटी ने छाों से मांगों का ज्ञापन लिया और सभी मांगों पर जल्द कार्यवाही का आासन दिया।
      मौके पर मौजूद प्रांत संगठन मंत्री सत्यभान सिंह ने कहा कि लखनऊ में छात्रवृत्ति के नाम पर करोड़ों का घोटाला किया जा रहा है। छात्र परेशान हो रहे हैं। इस कारनामें में समाज कल्याण विभाग भी मिला हुआ है। लखनऊ छात्रवृत्ति को लेकर जो घोटाला सामने आया उसकी जांच हो और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो।
          उन्होंने कहा कि एसीएसटी व सामान्य वर्ग के गरीब छात्रों की छात्रवृत्ति जल्द से जल्द उनके खाते में भेजी जानी चाहिए। छावृत्ति प्रक्रिया को पारदर्शी बनाया जाना चाहिए। इसके अलावा बढ़ती छात्रसंख्या को देखते हुए छात्रवासों की संख्या बढ़ाई जाय। वर्तमान में बढ़ते हुए सामाजिक परिवेश के अनुसार छात्रावास में कम्प्यूटर, इण्टरनेट, वाचनालय समेत मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराया जाना चाहिए।