मानव संसाधन को यूटिलाइज करने के लिये दी जाये रोजगार परक शिक्षा: शाह

लखनऊ। भारतीय वाणिज्य एवं उद्योग महासंघ (फिक्की) अध्यक्ष रशेस शाह ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में मानव संसाधन को पूरी तरक यूटिलाइज करने के लिये विद्यार्थियों को रोजगार परख शिक्षा देनी होगी ।
         यूपी इन्वेस्टर्स समिट में भाग लेने आये श्री शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में निवेश के लिये डिजिटल इंडिया, स्टार्ट अप इंडिया, राइजिंग इंडिया, स्किल इंडिया का पूरी तरह से तैयार है। मानव संसाधन को पूरी तरह से यूटिलाइज करने के लिये पालीटेक्निक, इंजीनियरिंग कालेजों को रोजगार परक शिक्षा देनी होगी। फिक्की निवेश को बढ़ावा देने के लिये नये प्रोजेक्ट तैयार कर रहा है। 
         उन्होने कहा कि प्रदेश में पर्यटन के क्षेत्र में अपार संभावनाये है। स्टार्ट अप इंडिया का प्रदेश में फिक्की पूरा सहयोग करेगी। प्रदेश में उद्योग लगाने के लिये राज्य सरकार अलग से नीतिया बनायी है। उम्मीद है कि समिट काफी सफल रहेगा। कन्धे से कन्धा मिलाकर काम होगा। इससे प्रदेश में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। अपोलो हास्पिटल ग्रुप की चेयरमैन ने कहा कि उत्तर प्रदेश देश का सबसे बड़ा प्रदेश है। अपनी संभावनाओं की तलाश करने 66 सीईओ आये है। स्किल डेवलपमेंट के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा बच्चों को रोजगार उपलब्ध कराने में मदद करेगी। इसके लिये हम चार स्किल कालेज खोलेंगे। जहां पर बच्चों को रोजगार के लिये तैयार किया जायेगा।
       आदित्य बिरला ग्रुप के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला ने प्रदेश में 25000 करोड़ के निवेश का वायदा किया है। महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने कहा कि उत्तर प्रदेश की किसी राज्य से नहीं, किसी देश से तुलना करनी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि प्रदेश में इलेक्ट्रिक कार मैन्युफैश्ररिंग कंपनी लगायी जायेगी। मॉरीशस के रक्षा मंत्री तथा प्रधानमंत्री के सलाहकर अनिरुद्ध जगन्नाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इस कार्यक्रम का हिस्सा बनाने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि भारत और मॉरीशस के बीच खून का रिश्ता है।
        हम सबसे पहले छोटा भारत मारीशस की ओर से सभी को धन्यवाद देना चाहता हूं। भारत और मारीशस के बीच खून का रिश्ता है। नरेंद्रमोदी को प्रधानमंी बनने से यह रिश्ता और मजबूत हो गया है। यहीं से हमारे पूर्वज मारीशस गये थे। मैं यहां से समाजिक आर्थिक और व्यापारिक रिश्ता बनाना चाहता हूं।
टाटा ग्रुप के अध्यक्ष एन0 चंद्रशेखरन ने कहा कि उत्तर प्रदेश में विकास की अपार संभावनायें है। यहां पर 30 हजार लोगों को रोजगार देने के लिये हम तैयार है। टीसीएस ग्रुप को हम लखनऊ में और समृद्ध करेंगे। उन्होने कहा कि टीसीएस लखनऊ में अपनी सर्विसेज जारी रखेगी। लखनऊ में अपनी उपस्थिति को ज्यादा मजबूत करेगी। प्रदेश के विकास के लिये सरकार के साथ मिलकर काम करेंगे।
        राज्यसभा सदस्य तथा एस्सेल ग्रुप के अध्यक्ष सुभाष चंद्रा ने कहा हमने उत्तर प्रदेश सरकार के साथ 18,750 करोड़ रुपये का एमओयू किया है। पिछली सरकार में हमने 30 हजार करोड़ का निवेश किया था, लेकिन सिर्फ तीन हजार करोड़ का काम मिला था। उन्होंने कहा कि यूपी इन्वेस्टर्स समिट एक मिसाल है।  
       उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री के प्रयास से 18750 करोड़ के एमओयू साइन कर दिया है । निश्चत रूप से अपना काम कर सकेंगे।उत्तर प्रदेश एक नया प्रदेश बन रहा है। सभी साथी यहां निवेश करें।