नकल मिलने पर केंद्राध्यक्ष पर होगी कार्रवाई : कलेक्टर

 भिंड।  मध्यप्रदेश में नकल के लिए कुख्यात रहे भिंड जिले के कलेक्टर इलैया राजा टी ने कहा है कि बोर्ड परीक्षाओं में किसी भी केंद्र पर नकल मिलने पर संबंधित केंद्राध्यक्ष के खिलाफ कार्रवाई होगी।
बोर्ड परीक्षाओं के एक मार्च से शुरु होने के पहले कल कलेक्टर इलैया राजा टी ने केंद्र संचालकों और शिक्षा विभाग के अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में कलेक्टर ने जिले के 72 परीक्षा केन्द्रों को अतिसंवेदनशील परीक्षा केंद्र बनाने का निर्णय लिया। साथ ही परीक्षा केंद्रों पर निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाने की बात कही गई। बैठक में कलेक्टर इलैया राजा टी ने कहा कि अगर किसी भी केंद्र पर चैकिंग के दौरान नकल होती मिली तो संबंधित शिक्षक और केन्द्राध्यक्ष के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। इस संबंध में दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं।
बोर्ड परीक्षाओं में जिले में हायर सेकंडरी में 18 हजार 105 एवं हाईस्कूल में 27 हजार 725 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। इन परीक्षा में निगरानी के लिए परीक्षा केन्द्र के बाहर प्राइवेट वॉलेंटियर तैनात किए जाएंगे, जो प्रशासन को परीक्षा की गतिविधियों से अवगत कराएंगे। परीक्षा केंद्र के 100 मीटर तक धारा 144 प्रभावशील रहेगी। परीक्षा केंद्र पर प्रवेश के लिए छात्र को प्रवेशपत्र के साथ पहचान पत्र भी अनिवार्य होगा। 
कलेक्टर ने कहा कि जिले को नकल मुक्त कराने का प्रयास दो साल से किया जा रहा है, नकल माफिया को परीक्षा केंद्र के आसपास से खदेडने के लिए भारी पुलिस बल की भी व्यवस्था की जाएगी।