भारती कॉलेज पर यौन उत्पीडन शिकायत वापस लेने का दबाव बनाने का आरोप

 नयी दिल्ली। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संघ एनएसयूआई ने आज भारती कॉलेज प्रशासन पर आरोप लगाया कि एक प्रोफेसर के खिलाफ दिल्ली विविद्यालय के कुलपति से की गयी यौन उत्पीडन की शिकायत करने वाली छात्रा पर इसे वापस लेने के लिये दबाव डाला जा रहा है। 
इस मामले को लेकर कांग्रेस समर्थित इस छात्र संगठन ने कॉलेज के समीप प्रदर्शन किया। एनएसयूआई के मीडिया प्रभारी नीरज मिश्रा ने कहा, ‘‘भारती कॉलेज ने करीब छह माह तक कोई कार्रवाई नहीं की और ऐसी स्थिति में विद्यार्थी के पास डीयू के कुलपति से शिकायत करने के अलावा कोई चारा नहीं बचा था। ’’मिश्रा ने कॉलेज प्रशासन पर विद्यार्थी को शिकायत वापस लेने के लिए मजबूर करने का भी आरोप लगाया।
हालांकि कालेज की प्राचार्य मुक्ति सान्याल ने आरोपों का खंडन किया और कहा कि हमें दो फरवरी को जाकर मीडिया रिपोर्ट से पता चला। हमने संबंधित प्रोफेसर को छुट्टी पर भेज दिया है।
स्नातक हिंदी की तृतीय वर्ष की छात्रा ने कल कुलपति और प्रोक्टर से अन्य विभाग के एक प्रोफेसर पर संदेश भेजकर परेशान करने और यौन बातें करने की शिकायत की। उसने कहा कि कॉलेज पर शिकायत वापस लेने उस पर दबाव डाल रहा है। प्रोफेसर प्रतिक्रिया के लिए उपलब्ध नहीं हो सका है।