शिक्षण संस्थानों में विद्यार्थियों की सुरक्षा सुनिश्चत करने के निर्देश

चंडीगढ़।  हरियाणा सरकार ने शिक्षण विशेषकर तकनीकी संस्थानों में सुरक्षित वातावरण उपलब्ध कराने के मद्देनजर सभी को सम्बंधित दिशानिर्देश का पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। 
      एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि शिक्षण संस्थानों में अप्रिय घटनाओं को रोकने के लिये प्रधानाचार्य, प्रबंधन प्रमुख या अन्य सम्बंधित लोग विद्यार्थियों और कर्मचारियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के जिम्मेदार होंगे। 
      संस्थानों मे कार्यरत ड्राइवर, कंडक्टर, सहायकों, सेवक, सफाईकर्मी, माली और अन्य कर्मचारियों का सत्यापन पुलिस विभाग से कराने की जिम्मेदारी भी प्रधानाचायरें और प्रबंधन प्रमुख  की होगी। सरकार ने ऐसे संस्थानों को अपने परिसरों में सीसीटीवी कैमरे लगाने तथा इनमें 45 दिन की रिकार्डिंग, केवल अधिकृत एजेंसी से गार्ड आउटसोर्स करने तथा इनके द्वारा मूवमेंट रजिस्टर रखने, वाहनों की लॉग बुक, पहचान पत्र, सभी स्टाफ का रिकॉर्ड रखने, संस्थान प्रबंधन एवं अभिभावकों के भी समन्वय हेतु समितियं गठित करने तथा आपात स्थिति के लिये निकटतम स्वास्थ्य केंद्र और पुलिस विभाग का टेलीफोन नम्बर एवं एसएमएस की व्यवस्था भी सुनिश्चत करने के निर्देश दिये हैं।