नई शिक्षा नीति नये भारत का निर्माण करेगी : अठावले




नई दिल्ली। केन्द्रीय सामाजिक न्याय व अधिकारिता राज्य मंत्री रामदास अठावले का कहना है कि नई शिक्षा नीति नये भारत का निर्माण करेगी। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति के क्रिन्यावयन में स्कूलों तथा शिक्षकों की महत्वर्पूर्ण भूमिका है। उन्होंने शिक्षा जगत से देश को आत्मनिर्भर बनाने में योगदान देने का आहवान किया।
         केन्द्रीय सामाजिक न्याय व अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले आज उड़ान—द सेंटर आफ थियेटर आर्ट एंड चाइल्ड डवलपमेंट तथा एडू एडवाइस की ओर से आयोजित एजुकेशन कान्क्लेव तथा सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। एनसीईआरटी के निदेशक श्रीधर श्रीवास्तव, सचिव मेजर हर्ष कुमार तथा शिक्षाविद अशोक पांडे समारोह के विशिष्ट अतिथि रहे। संस्था अध्यक्ष संजय टुटेजा, शिक्षाविद वेद टंडन, ज्योति अरोड़ा, मनन बुद्धिराजा एके बख्शी लक्ष्य छाबरिया ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। समारोह में  क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिये विद्याभारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान के अखिल भारतीय महामंत्री श्रीराम आरावकर, प्रमुख शिक्षा विद एसएल जैन तथा रयान ग्रुप आफ इंस्टीटयुट की चेयरमैन मैडम ग्रेस पिंटो को लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड दिया गया जबकि टाइम्स आफ इंडिया की पत्रकार श्रद्धा चेत्री, नवभारत टाइम्स की कात्यानी उप्रेती तथा दैनिक जागरण के अरविंद पांडे व ऋतिका मिश्रा को एजुकेशन रिपोर्टर आफ द ईयर का अवार्ड दिया गया। इसके अलावा लगभग 100 स्कूलों के प्रधानाचार्यो को अलग अलग श्रेणी के राष्ट्रीय शिक्षा पुरुस्कार प्रदान किये गये।
        समारोह को संबोधित करते हुए केन्द्रीय मंत्री अठावले ने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रिन्यावयन में स्कूलों की बड़ी जिम्मेदारी है। स्कूलों के सहयोग के बिना नई शिक्षा नीति का क्रिन्यावयन संभव नहीं है। इस नीति के माध्यम से स्कूलों ने नई पीढ़ी को नई दिशा देकर नये भारत का निर्माण करना है। नई शिक्षा नीति इस कार्य में  सहायता करेगी। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति ना केवल नये भारत का निर्माण करेगी बल्कि भारत को आत्मनिर्भर भी बनायेगी। एनसीईआरटी के अध्यक्ष श्रीधर श्रीवास्तव ने कहा कि नई शिक्षा नीति में बच्चों के संर्वांगीण विकास पर बल दिया गया है। एनसीईआरटी सचिव मेजर हर्ष कुमार ने कहा कि नई शिक्षा नीति वैज्ञानिक सोच पर आधारित है और इसमें भारतीय जीवन मूल्य भी समाहित हैं।
उड़ान द सेंटर आफ थियेटर आर्ट एंड चाइल्ड डवलपमेंट के संस्थापक संजय टुटेजा ने स्कूल प्रधानाचार्यो से स्कूल स्तर पर नई शिक्षा नीति के अनुसार बदलाव जल्द से जल्द किये जाने पर बल दिया। समारोह का संचालन अशुल त्यागी व कोमल चोपड़ा ने किया।