जेईई एडवांस परीक्षा 3 जुलाई 2021 को
  75 प्रतिशत के मानदंड को हटाया

नई दिल्ली। आईआईटी के लिये संयुक्त प्रवेश परीक्षा जेईई एडवांस इस वर्ष 3 जुलाई को होगीा तथा इस वर्ष जेईई एडवांस व आईआईटी संस्थानों  के लिये 75 प्रतिशत अंक की अनिवार्यता भी नहीं होगीा यह एलान केन्द्रीय केन्द्रीय शिक्षा मंत्री डा रमेश पोखरियाल निशंक ने आज टवीट पर अपने लाइव संदेश में किया।
       केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने आज शाम टवीटर पर अपने लाइव संदेश में कहा कि पिछले वर्ष कोरोना महामारी के कारण विषम परिसि्थतियां बन गई थी जिस कारण परीक्षाओं में देरी हुई थी, उन्होंने कहा कि पिछली बार जो विषम परिस्थिति बनी थी, उससे देश अभी तक  पूरी तरह उबर नहीं पाया है, ऐसी स्थिति में यह निर्णय लिया गया है छात्रों को परीक्षा में कुछ राहत प्रदान की जाये। उन्होंने बताया कि जेईई एडवांस व आईआईटी में 75 प्रतिशत अनिवार्यता के मानदंड को इस वर्ष हटा दिया है ताकि छात्रों को यह सुविधा मिल सके और छात्र छात्राएं जेईई एडवांस की परक्षा में बैठ सकें और सफल हो सके। उन्होंने कहा कि यह परीक्षा महत्वचपूर्ण होती है वह देश की शीर्ष परीक्षा होती है।   यह शीर्ष परीक्षा सरकार ने 3 जुलाई 2021 को कराने का निर्णय लिया है, छात्र छात्राओं के पास परीक्षा की तैयारी के लिये पूरा समय है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष आईआईटी खडगपुर यह परीक्षा आयोजित करेगा। 
संजय टुटेजा