आर्थिक विकास में आईआईआईटी संस्थानों की भूमिका अहम
  • छात्रों को उद्यमिता विकास का प्रशिक्षण देने पर बल 
 
नई दिल्ली  । केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री  रमेश पोखिरयाल  निशंक ’ ने कहा है कि आईआईआईटी संस्थानों की भूमिका आर्थिक विकास में अहम भूमिका है। उन्होंने संस्थानों से आहवान किया कि वह छात्रों को उद्यमिता विकास का प्रशिक्षण दें।
केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल ने  भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थानों के (आईआईआईटी) समन्वय फोरम की बैठक में देश में आर्थिक परिवर्तन के क्षेत्र में आईआईआईटी संस्थानों की भूमिका पर चर्चा की।  उन्होंने कहा कि देश ने वर्ष 2024 तक विशेष रूप से  5 ट्रिलियन डालर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य निर्धारित किया है और और इस आर्थिक परिवर्तन तथा सामाजिक विकास में आईआईआईटी संस्थानों की महत्वपूर्ण भूमिका है। 
उन्होंने संस्थानों के निदेशकों से आहवान किया कि वह एक विजन व मिशन बनाकर अपने लक्ष्यों को हासिल करने के लिये उद्यमियों को भी भागीदार बनायें। उन्होंने नेतृत्व विकास प्रशिक्षण कार्यक्रमों पर बलदिया।  उन्होंने नवाचार और उद्यमिता पर विशेष बल देते हुए कहाकि नवाचार व उद्यमिता  परिवर्तन का आधार हैँ। उन्होंने निदेशकों को उद्यमिता विकास कार्यक्रम शुरु करने की सलाह दी।