भाषा ज्ञान की अपेक्षा गणित में फिसडडी हैं प्राथमिक स्तर के छात्र
 
भाषा व गणित के ज्ञान में राजस्थान टॉप पर
भाषा ज्ञान में जम्मू कश्मीर सबसे पीछे जबकि गणित में पंजाब फिसडडी
 
नई दिल्ली । देश में प्राथमिक स्तर के स्कूली छात्र भाषा ज्ञान की अपेक्षा गणित में फिसडडी हैं। कक्षा आठ में भाषा व गणित के ज्ञान में राजस्थान टॉप पर है जबकि भाषा ज्ञान में जम्मू कश्मीर सबसे पीछे जबकि गणित में पंजाब फिसडडी है। प्राथमिक स्तर पर स्कूली छात्र-छात्राओं के आउटकम को बेहतर बनाने के लिये मानव संसाधन विकास मंत्रालय व्यापक योजना पर काम कर रहा है। 
 
           देश में शिक्षा का स्तर व गुणवत्ता में सुधार करने के लिये मानव संसाधन मंत्रालय द्वारा नई शिक्षा नीति का जो मसौदा तैयार किया गया है उसमें भी प्राथमिक स्तर से शिक्षा में व्यापक सुधारों की बात कही गई है। मंत्रालय सूत्रों के अनुसार नई शिक्षा नीति के मसौदे पर मंत्रालय को जो सुझाव मिले हैं उनमें भी बड़ी संख्या में ऐसे सुझाव हैं जिनमें प्राथमिक स्तर पर स्कूली शिक्षा में सुधारों की बात कही गई है।  स्कूली शिक्षा की गुणवत्ता तथा छात्र छात्राओं के आउटकम को बेहतर बनाने में राज्यों की ही महत्वपूर्ण भूमिका है लेकिन राज्यों की लापरवाहीपूर्ण रवैये के कारण ही देश में प्राथमिक स्तर पर ही शिक्षा कमजोर होती रही है। 
 
 नीति आयोग द्वारा जारी स्कूल एजुकेशन क्वालिटी इंडेक्स 2019 में दिये गये आंकड़ों के अनुसार देश के बड़े राज्यों में प्राथमिक स्तर पर कक्षा 8 के छात्रों में भाषा ज्ञान में राजस्थान 67 प्रतिशत अंक तथा गणित में 57 प्रतिशत अंक लेकर देश में प्रथम स्थान पर है जबकि कक्षा 8 में भाषा ज्ञान में जम्मू कश्मीर 43 प्रतिशत अंक लेकर सबसे नीचे स्थान पर है। गणित विषय में पंजाब 31 प्रतिशत अंक के साथ सबसे फिसडडी है। केन्द्र शासित प्रदेशों में कक्षा 8 के छात्रों में भाषा ज्ञान में 61 प्रतिशत तथा गणित में 46 प्रतिशत अंक लेकर टॉप पर है जबकि पुदुचेरी के छात्र भाषा ज्ञान में 46 प्रतिशत तथा गणित में 31 प्रतिशत अंक लेकर सबसे पीछे हैं। केन्द्र शासित प्रदेशों में देश की राजधानी दिल्ली की स्थिति भी बहुत बेहतर नहीं है। कक्षा 8 में भाषा ज्ञान में तो फिर भी दिल्ली 55 प्रतिशत अंकों पर है लेकिन गणित में दिल्ली केवल 32 प्रतिशत अंक पर है। 
 
छोटे राज्यों में गोवा जहां भाषा में 60 प्रतिशत अंक के साथ पहले नंबर पर है वहीं मणिपुर गणित में 42 प्रतिशत अंक लेकर पहले नंबर पर है। छोटे राज्यों में गणित में सबसे फिसडडी 30 प्रतिशत अंक के साथ सिक्किम है जबकि भाषा में 44 प्रतिशत अंक के साथ अरुणाचल प्रदेश सबसे पीछे है। इंडेक्स के आंकड़े बताते हैं कि कक्षा 3, कक्षा 5 व कक्षा 8 तीनों ही कक्षाओं में गणित में छात्र भाषा की अपेक्षा फिसडडी हैं। मानव संसाधन मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रीय स्तर पर प्राथमिक स्तर के छात्रों के परिणामों को जानने के लिये ही मंत्रालय ने नेशनल एचवीमेंट सर्वे शुरु किया है ताकि सव्रे के आंकड़ों से सरकार को देश भर की सही तस्वीर मिल सके। उन्होंने बताया कि देश में स्कूली शिक्षा को लेकर सरकार गंभीर है और इसके लिये एक व्यापक योजना पर काम चल रहा है ताकि स्कूली स्तर के छात्र छात्राओं के परिणाम में तेजी से सुधार हो सके।