दिव्यांगों को मिलेगा परीक्षा में मनपसंद का राइटर 
 
चंडीगढ़। हरियाणा सरकार ने लिखने में अक्षम दिव्यांग  विद्यार्थियों को लिखित परीक्षा में उनकी मर्जी के अनुसार राइटर दिया जाएगा। सरकार ने इसके साथ ही परीक्षार्थी से कम योज्ञता का राइटर होने की शर्त भी समाप्त कर दी है। 
       राज्य के शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने आज यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि हरियाणा स्कूल शिक्षा परियोजना परिषद के माध्यम से सर्व शिक्षा अभियान तथा राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के सभी जिला प्रोजेक्ट समन्वयकों को दिव्यांग विद्यार्थियों को लेकर केंद्र सरकार के तय नियमों का पालन करने तथा उनकी सुविधानुसार परीक्षा नीति बनाने के निर्देश दिये गये हैं।
       उन्होंने बताया कि दिव्यांग परीक्षार्थी अगर चाहे तो भाषा विषयों की परीक्षा में अलग—अलग राइटर की भी मांग कर सकता है।