जींद में छात्र संगठनों ने फूंका सरकार का पुतला

जींद। उत्तर प्रदेश के प्रमुख काशी  विश्वविद्यालय (बीएचयू) में छेड़छाड़ का विरोध कर रही छात्राओं पर लाठीचार्ज के खिलाफ भारत की जनवादी नौजवान सभा (डीवाईएफआई) और स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) ने आज यहां भारतीय जनता पार्टी सरकार का पुतला फूंका। 
      छात्र नेता नरेश कुमार और जिला पार्षद मोनू दनौदा ने कहा कि बीएचयू का घटनाक्रम पूरे देश को झकझोर देने वाला है। लंबे समय से वहां कुछ असामाजिक तत्वों की सक्रियता की बातें सामने आ रही थीं। प्रदेश सरकार, प्रशासन और कुलपति की भूमिका भी इस मामले में बहुत ही ​निंदनीय रही है। लड़कियां जब छेडख़ानी के खिलाफ शांतिपूर्ण आंदोलन चला रही थीं तो लाठीचार्ज का क्या मतलब था। पुरुष पुलिसकर्मियों ने लड़कियों के खिलाफ जिस हैवानियत का प्रदर्शन किया, वह शर्मसार कर देने वाला है। 
      छात्र संगठनों ने कुलपति को हटाने, दोषी पुलिस अधिकारियों को कड़ी से कड़ी सजा देने और  सरकार के सार्वजनिक तौर पर छाााआें से माफी मांगने की मांग भी की।