स्कूलों में सुरक्षा को देखने के लिये नियामक निकाय गठित करने का फैसला
 
    रेयान इंटरनेशनल स्कूल में प्रद्युम्न ठाकुर की जघन्य हत्या के बारह दिन बाद हरियाणा स्कूल शिक्षा विभाग ने राज्य में निजी और सरकारी स्कूलों में सुरक्षा और शिक्षा के मानदंडों को देखने के लिये एक नियामक निकाय गठित करने का आज फैसला किया। 
        हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव :शिक्षा: के के खंडेलवाल ने कहा कि स्कूलों में छात्रों की सुरक्षा एक बड़ा मुद्दा है। खासतौर पर सात वर्षीय एक छात्र की हत्या के बाद यह बड़ा मुद्दा है। 
        उन्होंने कहा,   नियामक निकाय बिजली के सतर्कता ब्यूरो की तरह काम करेगा और स्कूलों में कुप्रबंधन पर नजर रखेगा। निकाय को हरियाणा शिक्षा अधिनियम के तहत स्कूलों में औचक निरीक्षण करने और उनके लाइसेंस रद्द करने और जुर्माना लगाने की अनुशंसा करने शक्ति होगी।