रयान इंटरनेशनल के बाहर हिंसक प्रदर्शन, आग लगाई


      गुरूग्राम, गुरूग्राम के रयान इंटरनेशनल स्कूल में सात वर्षीय लड़के की हत्या की सीबीआई जांच की मांग को लेकर सैकड़ों लोगों ने आज विद्यालय परिसर के बाहर प्रदर्शन किया और स्कूल के नजदीक शराब की दुकान में आग लगा दी।
      पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठियां भांजी और 20 लोगों को हिरासत में ले लिया। प्रदर्शन के दौरान कुछ फोटो पत्रकारों के कैमरों को भी नुकसान पहुंचा।
       पुलिस ने बताया कि कुछ प्रदर्शनकारियों ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ अपने गुस्से का इजहार करते हुये स्कूल परिसर के भीतर शराब की बोतलें फेंकी। शराब की दुकान स्कूल से करीब 50 मीटर की दूरी पर स्थित है।  वे घटना को लेकर सीबीआई जांच का आदेश दिये जाने तक स्कूल बंद करने की मांग कर रहे थे। 
       गुड़गांव पुलिस के जन संपर्क अधिकारी रविन्दर कुमार ने बताया,   गुड़गांव पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए हल्का लाठीचार्ज भी किया। पुलिस ने स्कूल के बाहर प्रदर्शन कर रहे 20 से अधिक प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया   प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि खाली समय में स्कूल के चालक और कंडक्टर कभी-कभार शराब की दुकान से शराब खरीद कर पीते हैं।    बीते शुक्र वार को रयान इंटरनेशनल स्कूल के शौचालय के अंदर प्रद्युम्न ठाकुर का गला कटा हुआ शव मिला था जिसके बाद जनाक्रोश भड़क उठा था। 
       गुड़गांव पुलिस ने मामले के सिलसिले में स्कूल के बस कंडक्टर आशोक कुमार को हिरासत में ले लिया।   पुलिस ने बताया कि कुमार यौन उत्पीड़न के इरादे से शौचालय में किसी छात्र के आने का इंतजार कर रहा था। 

(भाषा)