आईआईएमए में प्रबंधन का पाठ पढ़ रहे हैं झारखंड के मंत्री
 
                               झारखंड के नौ मंत्रियों का एक समूह भारतीय प्रबंधन संस्थान अहमदाबाद में प्रबंधन और नेतृत्व का पाठ पढ़ रहे हैं । उनका कहना है कि इससे उन्हें चुनाव पूर्व किये गये वादों को पूरा करने में मदद मिलेगी।
      प्रोफेसर अरविंद सहाय ने बताया कि मंत्रियों का तीन दिवसीय अध्ययन दौरा सोमवार से शुरू हुआ। इस दौरान आईआईएम-ए के संकाय सदस्य उन्हें नेतृत्व और नैतिकता, सहकारी आंदोलन, स्वास्थ्य संबंधी देखरेख, शिक्षा और सार्वजनिक-निजी भागीदारी के बारे में संवाद सत्रों के जरिये जानकारी दी जा रही है।
                          बेहतर प्रशासन के लिए प्रबंधन एवं नेतृत्व  कार्यक्म में हिस्सा लेने वाले झारखंड के मंत्रियों में रामंचद्र चंद्रवंशी, नीरा यादव, सी पी सिंह, निकांत सिंह मुंडा, सरयू राय, राज पालीवाल, लुईस मरांडी, अमर कुमार बाउरी और सीपी चौधरी शामिल हैं।   सिंह ने संवाददाताओं को बताया कि कार्यक्म से   हमें चुनाव पूर्व वादों को पूरा करने में  मदद मिलेगी।   
                    उन्होंने बताया,   हम चुनाव से पूर्व बहुत सारे वादे करते हैं। लेकिन, हम सत्ता में आने के बाद प्राथमिकताएं तय करते हैं क्योंकि संसाधन सीमित है। ऐसे में इस तरह का शैक्षणिक कार्यक्म हमें नयी चीजें सीखने में मदद करेगा  और हम अपना वादा पूरा करने के लिए प्रभावी नीतियां तैयार कर सकेंगे।   
                     सिंह ने कहा कि झारखंड की जनता करीब ढाई साल पूर्व सत्ता में आयी भाजपा की सरकार से कुछ  चमत्कार  चाहती है।   उन्होंने कहा,   हम पूर्व की किसी भी सरकार के मुकाबले बेहतर कर रहे हैं। पूर्व में लोगों को राज्य सरकार से कोई उम्मीद नहीं होती थी। लेकिन अब वे हम से कुछ चमत्कार की उम्मीद कर रहे हैं। इस तरह की मांग स्पष्ट रूप से भाजपा के राज्य और केन्द्र में सत्ता में रहने के कारण है।   
      भाषा