संघ के पास देश को बदलने का ठोस विकल्प : राकेश सिंह
 
  नयी दिल्ली, भाजपा के सांसद राकेश सिन्हा ने दावा किया है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के खिलाफ ऊपर से नीचे तक दुष्प्रचार फैला हुआ है और इतिहास में संगठन के बारे में जो भ्रांतियां हैं, उन्हें विद्वतापूर्ण व्याख्या से दूर किया जा सकता है।
         सिन्हा कहते हैं कि जानबूझकर, कुछ घटनाओं की ऐतिहासिकता की भारतीय बुद्धिजीवियों द्वारा समझदारी से पड़ताल नहीं की गयी है । इसलिए आरएसएस के बारे में स्पष्ट और विद्वत्तापूर्ण व्याख्या से ‘‘भारत के इतिहास‘’ से अस्पष्टता दूर होगी। उनके अनुसार, घटनाओं के वर्णन में पहले से ही ताने को तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया और संघ को इस पूर्वाग्रह के कारण नुकसान उठाना पड़ा। उन्होंने कहा कि इसलिए,भ्रांतियों को दूर करने के लिए इतिहास लेखन में सच्चाई के प्रति प्रतिबद्धता की जरूरत है। तथ्य यह है कि संघ के पास भारत को बदलने का एक विसनीय विकल्प मुहैया कराने का विचारधारात्मक उपाय हैं ।  दिल्ली विविद्यालय में पढा रहे सिन्हा ने ’अंडरस्टैंडिंग आरएसएस’ नामक किताब लिखी है जिसमें वह ’दशकों से आरएसएस के बारे में छद्म बुद्धिजीवियों द्वारा जानबूझकर किये गए दुष्प्रचार को दूर करना चाहते हैं ।