नीट : अब परीक्षा पुराने पैर्टन पर ही वर्ष में एक बार होगी
 
  • सरकार ने वर्ष में दो बार नीट आयोजित करने का फैसला  वापस लिया
  • यूजीसी नेट, जेईई, नीट व सीएमएटी जीपीएटी परीक्षाओं का एलान
  • राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी करेंगे परीक्षाओं का आयोजन 
  • दिसंबर से मई तक होने वाली परीक्षाओं की हुई घोषणा
 
 नई दिल्ली(एसएनबी)। अंडर ग्रेजुअट मेडिकल व डेंटल कोर्स में प्रवेश के लिये होने वाली नीट परीक्षा अब पुराने पेटर्न पर वर्ष में एक बार ही होगी। इस परीक्षा को वर्ष में दो बार कराने का फैसला मानव संसाधन मंत्रालय ने स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुरोध के बाद वापस ले लिया है।  नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने नीट सहित दिसंबर से अगले वर्ष मई माह के बीच होने वालीाूजीसी नेट, जेईई, नीट व सीएमएटी जीपीएटी आदि परीक्षाओं की तिथियों का एलान कर दिया है। 
केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्रालय ने प्रवेश परीक्षाओं को सीबीएसई या अन्य एजेंसियों के बजाय  नेशनल टेस्टिंग एजेंसी से कराने का एलान करते हुए नीट परीक्षा को वर्ष में दो बार फरवरी व मई में आयोजित करने का एलान किया था और इसका शैडयुल भी जारी कर दिया गया था। मंत्रालय ने स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुरोध पर नीट को वर्ष में दो बार कराने के फैसले को वापस ले लिया है। नेशनल टैस्टिंग एजेंसी ने मंगलवार को दिसंबर से मई के बीच आयोजित की जाने वाली परीक्षाओं के शैडयुल व तिथियों का एलान किया जिसमें नीट की परीक्षा को 5 मई को आयोजित करने का एलान किया गया। मंत्रालय के अनुसार यह परीक्षा पुराने पेटर्न पर कागज व पेन पर आधारित होगी और एक बार ही होगी। 
ग्रामीण क्षेत्रों के छात्रों को प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी कराने के लिये एनटीए ग्रामीण इलाकों  टेस्ट प्रैक्टिस सेंटर स्थापित कर रहा है ताकि सभी को परीक्षा से पहले अभ्यास करने का अवसर मिले।  कुल 2,697  स्कूलों व  इंजीनियरिंग कॉलेजों में कम्पयूटर सेंटर सहित बनाये गये इन केन्द्रों में  प्रत्येक शनिवार व रविवार को 1 सितंबर, 2018 से यह अवसर उपलब्ध हागा और कोई भी छात्र इस सुविधा का निशुल्क उपयोग कर सकेगा। एनटीए द्वारा एक ऐप भी विकसित किया जा रहा है जो छात्रों को निकटतम केनद्र चुनने में सहायता  करेगा। 
टेस्ट प्रेक्टिस सेंटर में  एक कंप्यूटर आधारित टेस्ट (सीबीटी) होगा जो परीक्षा दिवस पर किए जाने वाले वास्तविक परीक्षण के समान होगा। प्रैक्टिस टेस्ट उम्मीदवारों को सिस्टम में लॉग इन करने के साथ खुद को परिचित करने में मदद करेगा।