डीयू : विज्ञान विषयों में अब भी मौके


चौथी कटऑफ के आधार दाखिले पूरे होने के बाद सामान्य वर्ग केलिए अवसर काफी कम 

दिल्ली विविद्यालय में शुक्रवार को चौथी कटऑफ के आधार पर दाखिले हुए। विवि में चौथी कटऑफ आने के बाद कई कॉलेजों में लोकप्रिय पाठ्यक्रमों में अवसर कम ही बचे हैं, और कॉलेजों की ओर से 0.25 फीसदी की कटौती करने पर भी बड़ी संख्या में छात्र दाखिले के लिए पहुंच रहे हैं। हालांकि नॉर्थ कैंपस के कॉलेजों में दाखिले के अवसर काफी कम हो गए हैं फिर भी छात्रों ने साउथ कैंपस के कॉलेजों से दाखिला छोड़कर नॉर्थ कैंपस के कॉलेजों में गिनी-चुनी सीटों पर दाखिला लिया। डीयू की चौथी लिस्ट के दाखिलों का दौर सोमवार तक जारी रहेगा। वहीं विवि से संबद्ध कॉलेजों में विज्ञान विषय के अनेक पाठ्यक्रमों में सीटें अब भी खाली पड़ी हैं। हंस राज कॉलेज ने सामान्य उम्मीदवारों के लिए बॉटनी (ऑनर्स) के लिए 93 प्रतिशत की चौथी कटऑफ जारी की है तो बीएससी रसायन विज्ञान (ऑनर्स) में कट ऑफ 96 प्रतिशत है। बीएससी के लिए कम्प्यूटर साइंस (ऑनर्स) जिसमें कट ऑफ 95.75 प्रतिशत अंकों की जारी की है। भूविज्ञान (ऑनर्स) और बीएससी लाइफ साइंसेज में चौथी कटऑफ के तहत 94.33 प्रतिशत अंकों वाले छात्र दाखिला ले सकते हैं। वहीं दौलत राम कॉलेज में वनस्पति विज्ञान (अ) में चौथी कटऑफ 91 प्रतिशत, जूलॉजी (अ) में 92.66 प्रतिशत कटऑफ निर्धारित की गई है। हालांकि डीयू केकाफी कॉलेजों में बीए प्रोग्राम में भी दाखिले के मौके हैं, वहीं बीकॉम ऑनर्स व बीकॉम प्रोग्राम, ईको ऑनर्स में भी दाखिले का अवसर है। प्रिंसिपलों का मानना है कि चौथी कटऑफ के आधार दाखिले पूरे होने के बाद सामान्य वर्ग केलिए दाखिले केअवसर काफी कम रह जाएंगे।चौथी सूची के आधार वार दाखिला लेने के साथ ही कॉलेजों में दाखिला रद कराने का भी दौर जारी रहा। अरबिंदो कॉलेज में चौथी कट ऑफ के आधार पर पहले दिन 115 दाखिले हुए तो वहीं विभिन्न पाठ्यक्रमों से 75 दाखिले रद्द भी हुए। कॉलेज में अब तक 970 सीटों पर 769 दाखिले हो चुके हैं। वहीं शिवाजी कॉलेज में अब तक हजार सीटें भर चुकी हैं, और अब कॉलेज में सभी श्रेणियों के तहत महज 250 सीटें ही बची हैं। वहीं आर्यभट्ट कॉलेज में शुक्रवार को 26 दाखिले हुए और 72 दाखिले रद्द हुए। सर्वाधिक बीकॉम कोर्स से दाखिले रद्द हुए हैं। यहां अब तक यहां 610 सीटों पर 560 दाखिले हो चुके हैं।