राजधानी कॉलेज का बसई दारापुर में बनेगा गर्ल्स हॉस्टल

एक एकड़ में बनने वाले हॉस्टल में 200 सीटें होंगी 
प्रबंध समिति में हो चुकी है सैद्धांतिक स्वीकृति

दिल्ली विविद्यालय से संबद्ध राजधानी कॉलेज में गर्ल्स हॉस्टल बनने जा रहा है। अभी तक कॉलेज में किसी तरह के हॉस्टल की सुविधा नहीं है। यह हॉस्टल कॉलेज के सामने ही बसई दारापुर में प्रस्तावित है। कॉलेज के पास इस हॉस्टल के लिए बीते कई सालों से यहां एक एकड़ जमीन है। गर्ल्स हॉस्टल के लिए कॉलेज की गवर्निग बॉडी में सैद्धांतिक रूप से स्वीकृति हो चुकी है। कॉलेज के प्राचार्य डॉ राजेश गिरि ने बताया कि कॉलेज प्रबंध समिति अध्यक्ष हरजीत सिंह की पहल से यह हॉस्टल बनेगा। डॉ गिरि ने बताया कि इस हॉस्टल में करीब 200 छात्राओं के रहने की सुविधा मिलेगी। इस हॉस्टल के निर्माण के लिए व्यापक प्रस्ताव की तैयारी हो रही है। इसको लेकर बिल्डिंग कमेटी की बैठक बुलाई जाएगी। डॉ गिरि ने बताया कि कॉलेज के पास फंड की किसी तरह की कमी नहीं है, लिहाजा यहां अत्याधुनिक हॉस्टल का निर्माण किया जा सकेगा। इस हॉस्टल के बनने से जो छात्राएं दिल्ली से बाहर से यहां पढ़ने आती हैं, लेकिन हॉस्टल की सुविधा न होने से उन्हें पीजी या किराये के मकानों में रहना पड़ता है, उनकी यह समस्या दूर होगी। इस हॉस्टल के बनने से डीयू की हॉस्टलों की संख्या में इजाफा होगा। बता दें कि अभी तक 18 कॉलेजों में हॉस्टल की सुविधा है। इस कॉलेज के अलावा एसजीटीबी खालसा कॉलेज में भी छात्रों के लिए एक हॉस्टल बनेगा। यह हॉस्टल छह करोड़ रपए की लागत से दो साल में बनकर तैयार होगा। यहां 150 छात्रों की रहने की व्यवस्था होगी।