दिल्ली विविद्यालय में इस बार हो सकता है हाई कटऑफ

इस बार 95 व इससे अधिक वाले 12 हजार 737 

नई दिल्ली। केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के बारहवीं के नतीजों में 95 फीसद व इससे अधिक व 90 फीसद व इससे अधिक विद्याथियों की संख्या में इस बार बीते साल की तुलना में ज्यादा इजाफा हो गया है। लिहाजा इसका सीधा असर दिल्ली विविद्यालय के 19 जून को आने वाले पहले कटऑफ में देखा जा सकता है। बारहवीं के नतीजों के आंकड़ों के अनुसार ऐसे विद्यार्थियों की संख्या में इस बार 12 हजार 18 का इजाफा हुआ है। डीयू के ओएसडी दाखिला डॉ गुरप्रीत सिंह टुटेजा का कहना है कि अभी यह कहना आसान नहीं होगा कि कटऑफ में कितना इजाफा होगा। कॉलेजों द्वारा कटऑफ के निर्धारण के दौरान ही यह तय होगा कि कॉलेज कितना इजाफा हो सकता है। बीते साल पहली कटऑफ में सबसे ज्यादा इजाफा नॉर्थ कैम्पस के एसजीटीबी खालसा कॉलेज ने किया था। कॉलेज ने बीएससी इलेक्ट्रॉनिक्स में अपनी कटऑफ 99.66 फीसद घोषित की थी। इसी प्रकार इसी कॉलेज ने बीए पॉलिटिकल साइंस ऑनर्स की भी सर्वाधिक कटऑफ 99 फीसद व अंग्रेजी ऑनर्स में सर्वाधिक कटऑफ 98.75 फीसद घोषित की थी, जो कि अन्य कॉलेजों की तुलना में सर्वाधिक देखा गया था। लिहाजा इस बार भी कटऑफ में इजाफा तय है। ज्यादा फीसद वाले विद्यार्थियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए यह तय है कि इस बार ज्यादा कॉलेज अधिक कोर्सेज में अपनी कटऑफ में इजाफा करेंगे।