पारदर्शिता लाने के लिये प्राध्यापकों को स्टेशन किये अलाट

चंडीगढ़ं। पंजाब के तकनीकी शिक्षा मंत्रर चरनजीत सिंह चन्नी ने कहा है कि भ्रष्टाचार रोकने तथा पारदर्शिता लाने के लिये विभाग में पहली बार नये प्राध्यापकों को उनकी पसंद के स्टेशन अलाट किये गये हैं ।
     उन्होंने आज यहां एक बयान में कहा कि इस बात को बेवजह तूल देने की कोशिश की जा रही है । उन्होंने स्पष्ट किया कि विभाग में नये 37 मैकेनिकल प्राध्यापकों को सचिवालय बुलाया गया था और उसी समय आपसी सहमति से उनकी पसंद के स्टेशन अलाट कर दिये ।
  श्री चन्नी ने कहा कि बड़े दुर्भाग्य की बात है कि इलेक्ट्रानिक मीडिया में कुछ ने बिना पूछताछ के ही इस बारे में गलत खबरे लगा दीं।प्रदेश सरकार भ्रष्टाचार खत्म करने तथा प्रशासन में पारदर्शिता लाने के प्रति वचनबद्ध है ।विभाग में सख्त फैसला लेकर चुने गये प्राध्यापकों को उनकी पसंद के स्टेशन दिये हैं ताकि वे भी छात्रों को बेहतर शिक्षा प्रदान कर सकें । ज्ञातव्य है कि कल सभी प्राध्यापकों को तैनाती को लेकर बुलाया गया था और अपनी पसंद के स्टेशन बताने को कहा गया था। इस दौरान 37 में से 35 प्राध्यापकों में स्टेशन को लेकर कोई टकराव सामने नहीं आया । चन्नी ने कहा कि उन्होंने पारदर्शी तथा नेक नीयत के साथ सभी के सामने स्टेशन अलाट किये हैं तथा सभी प्राध्यानक इस फैसले से खुश होकर गये हैं । उन्होंने मीडिया से अपील की कि वे ऐसी खबरें चलाने से पहले पूछताछ कर लें तथा बेवजह तूल देने के बजाय  युवकों को आगे बढ़ने में साथर्क भूमिका निभायें ।