अधिकांश बिक्री प्रबंधक प्रथम श्रेणी के एमबीए विविद्यालय से नहीं : अध्ययन


        मुंबई, 17 दिसंबर।  किसी भी कंपनी या संगठन के लिए बिक्री और विपणन सबसे प्रमुख काम होता है, लेकिन एक अध्ययन के मुताबिक बमुश्किल आठ प्रतिशत बिक्री एवं विपणन प्रबंधक ही ऐसे होते हैं जिन्होंने अपनी प्रबंधन की पढ़ाई किसी पहले दर्जे वाले एमबीए विविद्यालय से की होती है।
        नियुक्ति कराने वाली एक कंपनी बीलॉन्ग के अध्ययन के अनुसार  कंपनियों के मुश्किल से आठ प्रतिशत निदेशक, उपाध्यक्ष और सह-उपाध्यक्ष ही अपनी प्रबंधन (एमबीए) की पढ़ाई के लिए पहले दर्जे के विविद्यालयों में गए होते हैं।  वास्तव में इसमें से करीब 62ञ् प्रबंधकों ने स्नातक की पढ़ाई भी पूरी नहीं की है।  
        यह सर्वेक्षण आगे इस बात की भी पुष्टि करता है कि विविद्यालय और उसके छात्रों को कंपनियों में मिलने वाली भूमिका के बीच कोई संबंध नहीं है।  यह नहीं बताया जा सकता कि किस विविद्यालय का छात्र अपने करियर में कितनी प्रगति करेगा।
        यह अध्ययन उद्योग जगत के करीब 12,000 बिक्री प्रबंधकों के बीच किया गया।
        अध्ययन एक और बात बताता है कि प्रथम श्रेणी के विविद्यालय से एमबीए करके बिक्री प्रबंधक के तौर पर करियर शुर करने वाले अधिकतर प्रबंधक कुछ ही सालों में अलग भूमिका को अपना लेते हैं।

साभार भाषा