दृष्टिबाधित छात्र सीखेंगे लैपटॉप व एण्ड्रॉयड फोन चलाना 

जयपुर। राजस्थान में दृष्टिबाधित विद्यार्थियों को ब्रेन लिपि के माध्यम से एण्ड्रोयड फोन और लैपटॉप चलाना सिखाया जायेगा। 
        शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने यह जानकारी देते हुये बताया कि दृष्टिबाधित विद्यार्थियों को एण्ड्रोयड फोन, लैपटॉप आदि में ब्रेल लिपि की मदद से उन्हें आत्मनिर्भर किए जाने के अधिकाधिक शिक्षण-प्रशिक्षण अवसर उपलब्ध कराए जाएंगे।    
          देवनानी आज यहां सीतापुरा में सेंटर फॉर कम्यूनिटी इकोनोमिक्स एंड डवलपमेंट कंसलटेन्ट (सीकोइेडिकोन) द्वारा आयोजित‘दृष्टिबाधित बच्चों को सूचना और संचार प्रौद्योगिकी से प्रशिक्षण’विषयक संगोष्ठी में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सूचना और संचार प्रौद्योगिकी ने यह आसान कर दिया है कि दृष्टिबाधित बच्चे भी अपनी प्रतिभा को आगे बढ़ा सकें। उन्होंने कहा कि यह जरूरी है कि दृष्टिबाधित बच्चों को कम्प्यूटर के प्रति आकषिर्त किया जाए। उन्हें ब्रेल लिपि के संचार उपकरणों के जरिए शिक्षा, रोजगार और गतिशील बनाने के लिए सभी स्तरों पर प्रयास हों ताकि वे आत्मनिर्भर बन सकें।
       उन्होंने कहा कि विभर के 20 प्रतिशत दृष्टिबाधित हमारे देश में है। इसलिए यह जरूरी है कि उनके लिए सूचना और संचार प्रौद्योगिकी को अधिकाधिक सुलभ कराई जाए। उन्होंने कहा कि ऐसे बहुत से उपकरण विकसित हो गए हैं जिनमें ऐसे संकेत हैं जिनका स्पर्श करके दृष्टिबाधित विद्यार्थी न केवल कम्प्यूटर में दक्ष हो सकते हैं बल्कि वे वैज्ञानिक स्तर पर अपने ज्ञान को भी आगे बढ़ा सकते हैं। उन्होंने इस दिशा में और अधिक शोध-अनुसंधान किए जाने की भी आवश्यकता जताई।